रविवार, 8 अप्रैल 2018

मेरा परिवार 

बीबी बच्चे माँ बाप भाई बहन अड़ोस पड़ोस गांव शहर राज्य राष्ट्र देश विश्व, मैं सबका सब मेरे, मेरा सब कुछ सबका, सबका सब कुछ मेरा, क्या ऐसा संभव है ?!?!? ऐसा हो जाये तो आनंद ही आनंद  हो जाये !

कोई टिप्पणी नहीं: